चमत्कार है या कुछ और, कि ये व्यक्ति कभी कैमरे से खिंची फोटो में नजर नहीं आया - fun offbeat

Latest

Friday, 29 December 2017

चमत्कार है या कुछ और, कि ये व्यक्ति कभी कैमरे से खिंची फोटो में नजर नहीं आया

camera, photoshoot,
दोस्तों, क्या आपने कभी सुना है कि किसी ग्रुप फोटो में सभी लोग साफ नजर आएं, पर जिसके साथ फोटो खिंचवा रहे हो, वह नजर ही नहीं आए। ये कोई जादू नहीं बल्कि सच है, ये चमत्कारी व्यक्ति थे परमहंस योगानंद के गुरु लाहिड़ी महाराज। उनकी अनुमति लिए बिना उनका फोटो नहीं खींचा जा सकता था, और अगर खींचा गया तो वो उस फोटो में नजर नहीं आते थे।

लाहिड़ी महाराज का जो फोटो उपलब्ध है, वह उनकी एकमात्र तस्वीर है 

लाहिड़ी महाराज का पूरा नाम श्यामचरण लाहिड़ी था। एक बार लाहिड़ी महाराज के कुछ शिष्यों ने उनके न चाहते हुए भी उनके साथ एक ग्रुप फोटो खींची। लेकिन जब फोटो डेवलप होकर आयी तो सब हैरान रह गए। उसमें बाकी सभी लोग तो ठीक से दिख रहे थे लेकिन लाहिड़ी महाराज नहीं दिख रहे थे, जहाँ लाहिड़ी महाराज खड़े थे वो जगह खाली थी। जब लोगों को इस बात का पता चला तो सभी यह रहस्य जानने को उत्सुक हुए।
गंगाधर बाबू नाम के एक फेमस फोटोग्राफर तक जब ये बात पहुंची तो उन्होंने कहा, "लाहिड़ी महाराज कुछ भी कर लें। पर मैं उन्हें अपने कैमरे में कैद कर सकता हूँ।" अगले दिन वह फोटो खींचने लाहिड़ी महाराज के घर पहुंचे। लाहिड़ी महाराज लकड़ी की बैंच पर धयानमग्न थे। गंगाधर बाबू आए, उन्होंने फोटो खींचने से पहले लाहिड़ी महाराज के पीछे एक पर्दा लगा दिया और लाहिड़ी महाराज को बिना पूछे उनके 12 फोटो खींचे।
लेकिन जब फोटो की प्लेट गंगाधर बाबू ने देखी तो उनके होश उड़ गए। प्लेट पर केवल लकड़ी की बैंच और पर्दा नजर आ रहा था। लाहिड़ी महाराज कहीं नहीं दिख रहे थे। इस घटना के बाद गंगाधर बाबू लाहिड़ी महाराज के पास पहुंचे।
lahiri maharaj, lahiri maharaj kahaniyan, offbeat story, ajab gajab kahani, rahasyamayi kahani, mysterious person, who was this person, kaun tha ye vyakti, lahiri maharaj story in hindi,
ध्यान में बैठे लाहिड़ी महाराज ने उनसे कहा- ‘मैं ब्रह्मा हूं। क्या तुम्हारा कैमरा सर्वव्यापी अगोचर का फोटो खींच सकता है’?
इस पर गंगाधर बाबू ने कहा,"नहीं। परंतु आप की एक फोटो लेने की मेरी परम इच्छा है।" ये सुनने के बाद लाहिड़ी महाराज ने गंगाधर बाबू से कहा "ठीक है, तुम कल सुबह आओ, मैं तुम्हारे कैमरे के सामने बैठकर फोटो खिंचवा लूंगा।" दूसरे दिन गंगाधर बाबू फोटो लेने पहुंच गए। लाहिड़ी महाराज ने उन्हें अपना फोटो लेने दिया। इस फोटो के आलावा लाहिड़ी महाराज ने कभी कोई फोटो नहीं खिचवाया, और यही उनकी एकमात्र उपलब्ध फोटो है।
------------------------
ये भी पढ़ें -
बच्चे का रंग सांवला है तो नहाने के पानी में मिलाएं ये चीज़ और फिर देखिए फर्क 
इस जेल में भटकती हैं कैदियों की आत्मा, करती है कैदियों को परेशान, देखिये पिक्स 
हस्तरेखा से जानिए किस क्षेत्र में बनाये अपना करियर, करें नौकरी या बिजनेस 
नायाब हीरे की असलियत और उसका दुःख, एक लघुकथा 
पार्ट टाइम जॉब करना चाहते हैं तो इन स्किल को जरूर डेवलप करें 
--------------------------------

No comments:

Post a Comment

whatsapp button