धन की वृद्धि करने के लिए घर के इस स्थान पर लगाएं दर्पण - fun offbeat

Latest

Friday, 28 July 2017

धन की वृद्धि करने के लिए घर के इस स्थान पर लगाएं दर्पण

jyotish and vastu in hindi, mirror

वास्तु शास्त्र दर्पण के प्रयोग को शक्तिशाली मानता है इसके पीछे का तर्क बहुत सरल है। वास्तु शास्त्र के अनुसार दर्पण में उर्जा को अवशोषित करने और परावर्तित करने की क्षमता होती है। यही विशेष कारण है कि यदि किसी भी घर में दर्पण हो तो विशेष कोण के अनुसार या तो ये सकारात्मक उर्जा की वृद्धि करेगा या तो घर का वातावरण पुर्णतः नकारात्मक कर देगा। घर में दर्पण के विभिन्न जगहों के प्रभाव इस प्रकार हैं।

दर्पण वास्तु सकारात्मक प्रभाव

यदि दर्पण को आप अपने तिजोरी के सम्मुख रखते हैं तो ये आपके धन सम्पदा में दिन दुगुनी, रात चौगुनी वृद्धि का कारक बनेगा। यहाँ दर्पण सकारात्मक उर्जा में वृद्धि करता है, और हर बढ़ते समय के साथ आपकी आर्थिक स्थिति बेहतर होती जाती है।

दर्पण वास्तु नकारात्मक प्रभाव

यदि आपका दर्पण घर के मुख्य द्वार के ठीक सामने है, तो ये उन सकारात्मक उर्जाओं को परावर्तित कर देगा जो आपके घर में आ रही होंगीं, चूँकि वास्तु शास्त्र के अनुसार घर का मुख्य द्वार हर प्रकार की उर्जा का प्रवेश द्वार होता है, और इस स्थान से सबसे अधिक उर्जा आपके घर के अन्दर आती है, इसिलए इस स्थान का विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए, अतः दर्पण को किसी भी ऐसे वस्तु के ठीक सामने ना रखें जिसमें नकारात्मक उर्जा हो, अन्यथा ये नकारात्मक उर्जा को अवशोषित करेगा और घर में नकारात्मक उर्जा का भण्डार बढेगा। अपने घर या ऑफिस में कहीं भी दर्पण लगायें तो वास्तु शास्त्र के इन नियमों को नज़रअंदाज़ ना करें।
  • घर में यथासंभव चौकोर या आयताकार शीशा ही लगायें।अंडाकार और गोल आकार का दर्पण इस्तेमाल ना करें।
  • प्रयास करें कि दर्पण जिस भी दीवार पे लगायें, फर्श से कम कम से कम 4 से 5 फीट की ऊंचाई पे हो।
  • दर्पण को घर की उत्तर और पूर्व दिशा की दीवार पे लगाना सबसे उत्तम रहता है।
  • अपने ड्रेसिंग टेबल में एक बड़ा शीशा लगाये और इसे अपने बिस्तर के साइड में लगाये ताकि सोते समय आप शीशे में ना दिखें, ऐसा करना शुभ माना जाता है।
  • यदि आपके घर का कोई कोना कटा हुआ है तो उस दिशा में शीशा लगा दें, इससे उस कोने का वास्तु दोष समाप्त हो जायेगा.
  • घर में खाने की डाइनिंग टेबल के सम्मुख रखा दर्पण घर में अखंड धन-धान्य का कारक होता है।
  • तिजोरी के सम्मुख रखा दर्पण धन में दिन दुगुनी, रात चौगुनी वृद्धि करता है।
  • घर के खिड़की और दरवाजों के शीशे कभी भी पारदर्शक नहीं होने चाहियें।
  • कदापि भी दो दर्पण एक दुसरे के सम्मुख नहीं लगाने चाहियें, इससे उर्जा अनियंत्रित होती है।
  • घर की सीढ़ियों के आसपास दर्पण नहीं लगाने चाहियें।

whatsapp button