Hindi funny jokes | इश्क़ में हम तुम्हें क्या बताएं, इस कदर चोट खाए हुए हैं - fun offbeat

Latest

Thursday, 27 July 2017

Hindi funny jokes | इश्क़ में हम तुम्हें क्या बताएं, इस कदर चोट खाए हुए हैं

jokes in hindi

पति और पत्नी में लड़ाई हो गयी

पत्नी रूठकर मायके चली गयी, बेचारे पति ने फोन किया।
पति - जानू मुझे माफ़ कर दो। वापस आ जाओ ना।
पत्नी - पहले जरा किचन से एक ग्लास लाओ,और उसे जमीन पर पटक दो।
पति - पटक दिया।
पत्नी - अब जो कांच के टुकड़े हैं, उनको फिर से जोड़ सकते हो क्या ?
पति - जोड़ने की जरुरत नहीं है डार्लिंग, ग्लास टूटा ही नहीं है क्योंकि गिलास स्टील का था।
पत्नी - आप भी बड़े वो हो जी, कल लेने आ जाना।

कुछ फेमस गाने 

"इश्क़ में हम तुम्हें क्या बताएं, इस कदर चोट खाए हुए हैं।" - लालू प्रसाद
"आज ही हमने बदले हैं कपड़े, आज ही हम नहाए हुए हैं।" - नीतीश कुमार
"पारस बन रहे हैं वो ऐसे, जैसे गंगा नहाए हुए हैं"। - सुशील मोदी
"कुछ पतंगों की लाशें पड़ी हैं, पर किसी के जलाए हुए हैं"। - कांग्रेस
"ऐसे आए हैं मय्यत पे मेरी, जैसे शादी में आए हुए हैं"। - महागठबंधन
"मौत ने हमको मारा है और हम जिन्दगी के सताए हुए हैं"। - लोकतन्त्र
राजनीति में ऐसा कोई सगा नहीं, जिसने एक दूसरे को ठगा नहीं,
सोनम गुप्ता अगर बेवफा है तो अब लालू यही सोच रहे होंगे कि असली सोनम गुप्ता तो नीतीश कुमार ही हैं।

रेडियो और अखबार मे अंतर 

मास्टर - बच्चों जा बताओ के रेडियो और अखबार में सबसे बडों अंतर का है?
बच्चा - मास्साब, अखबार बा चीज है जे में पुड़ी लपेटी जाए सकत है मगर रेडियो मा नहीं।

ठेकेदार की समझदारी 

ठेकेदार से 'बात' हो जाने पर, क्लर्क ने साहब को बता कर फाइल रखी, साहब ने लिखा "Approved", दो दिन बाद, ठेकेदार वादे से मुकर गया,क्लर्क ने साहब को बताया,
साहब बोले- अब क्या करें?
क्लर्क के दिमाग का कमाल देखिये, क्लर्क ने कहा- सर, Approved के पहले Not शब्द लिख दीजिए मतलब "Not Approved".
अब ठेकेदार परेशान फिर क्लर्क से मिलकर 'बात' बनाई, क्लर्क फिर साहब के सामने फाइल लेकर पहुंचा, साहब झल्लाये, अब क्या करें? फिर क्लर्क के दिमाग का कमाल देखिये, क्लर्क ने कहा, सर, Not में केवल e लगा दें ,अर्थात 'Note: Approved'.
आप ही बताइए कौन देश चला रहा है ?
अफसर करें  न अफसरी, वर्कर करें न वर्क ।
दास मलूक कह  गये, सब कुछ करें  क्लर्क।

मकान मालिक किरायेदार से

मकान मालिक किरायेदार से - बेटा पूरे साल तो तेरी बहुत बहनें आती है,अगर रक्षा बंधन पर एक भी बहन नहीं आयी तो मकान खाली कर देना।
-----------------------------


whatsapp button